-->
<

केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला कल उत्तर प्रदेश के गढ़ मुक्तेश्वर के बृजघाट में नदी तट पर कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।

केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला कल उत्तर प्रदेश के गढ़ मुक्तेश्वर के बृजघाट में नदी तट पर कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।
केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला कल उत्तर प्रदेश के गढ़ मुक्तेश्वर के बृजघाट में नदी तट पर कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।

08 Oct 2021:   केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला कल उत्तर प्रदेश के गढ़ मुक्तेश्वर के बृजघाट में नदी तट पर कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।

उत्तराखंड, उड़ीसा, त्रिपुरा और छत्तीसगढ़ जैसे चार राज्य भी राष्ट्रव्यापी नदी रैंचिंग कार्यक्रम की शुरुआत के गवाह होंगे 

केंद्रीय मत्स्य पालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला सुबह 10.00 बजे से दोपहर 12 बजे तक उत्तर प्रदेश के बृजघाट, गढ़ मुक्तेश्वर में नदी तटीय कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।  पशुपालन और डेयरी, उत्तर प्रदेश सरकार के मेरठ लोक शाभा सीट से सांसद श्री राजेंद्र अग्रवाल, गढ़मुक्तेश्वर, उप्र के विधायक कमल सिंह मलिक, भारत सरकार के डीओएफ के सचिव डॉ.C सुवर्णा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ.C सुवर्णा, श्री सागर मेहरा, संयुक्त सचिव (अंतर्देशीय मत्स्य पालन), डीओएफ, जीओआई और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।  DoF और स्थानीय निकायों। 

चार अन्य राज्यों नामत उत्तराखंड, उड़ीसा, त्रिपुरा और छत्तीसगढ़ भी राष्ट्रव्यापी नदी रैंचिंग कार्यक्रम की शुरुआत के गवाह होंगे ।

उत्तर प्रदेश में विभाग द्वारा 12 जिलों में देशी कार्प प्रजाति के करीब 15 लाख मछलियों की फिंगरलिंग्स को एक साथ नदी में छोड़ा जाएगा। इन जिलों में बुलंदशहर/हापुड़, हरदोई, बिजनौर, अमरोहा, फतेहपुर, कानपुर, बदायूं, कौशांबी, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी और गाजीपुर शामिल हैं।


Post a Comment

Thanks for messaging us.

Previous Post Next Post

Offer

<

Mega Offer